Select Page

मोर छत्तीसगढ़ के रंग

मोर छत्तीसगढ के हावे छत्तीसो रंग । करमा ददरिया सुवा भोजली के अजब निराला हे ढंग ।। कोस कोस म पानी बदले, राज राज म बानी । गुरतुर बोली मीठ मया के, गांवय सबो परानी । गुडी परसार म बाछय आल्हा सुनके होय मन मतंग ।। डंडा फाग के कुहकी गूंजे गांव गली अऊ खोर म । आमा के थांगी...
error: