Select Page

छेरछेरा

दान पून के तिहार  — छेरछेरा  ************************* हमर भारत देश में पूजा पाठ अऊ दान के बहुत महत्व हे। दान करे बर जाति अऊ धरम नइ लागय। हमर भारतीय संस्कृति  में हिन्दू, मुसलिम, सिख, ईसाई, जैन सबो धरम के आदमी मन दान धरम करथे अऊ पुण्य  कमाथे। हमर वेद पुरान अऊ...

मेरा गाँव

    मेरा गाँव  मेरा गाँव है बड़ा सुहाना,  पीपल का है छाँव पुराना। जिसमें बैठे दादा काका,  ताऊ भैया और बाबा ।। तरह तरह की बात बताते,  नया नया किस्सा सुनाते । कभी नही वे लड़ते झगड़ते,  आपस में सब मिलकर रहते ।। सुख दुख में सब देते साथ, देते हैं हाथों में हाथ । चारों...

तिल लाड़ू खाव — मकर संक्रांति मनाव

तिल लाड़ू खाव — मकर संक्रांति मनाव मकर संकराति हिन्दू धरम के एक मुख्य तिहार हरे। ए परब ल पूरा भारत भर में एक साथ मनाये जाथे।  पूस मास में सुरुज देव ह धनु राशि ल छोड़ के मकर राशि में प्रवेश करथे इही ल मकर संकराति के नाम से जाने जाथे। मकर संकराति के दिन से ही सूर्य...

पर्यावरण बचाओ

  पर्यावरण बचाओ (दोहा छंद) पेड़ लगाओ मिल सभी, मिलती है जी छाँव । शुद्ध हवा पानी मिले , सुंदर लगते गाँव ।।1।। पेड़ों से मिलती हमें , औषधि लकड़ी फूल । गाँव गली में छोरियाँ , रस्सी बाँधे झूल ।।2।। पर्यावरण विनाश से, मरते हैं सब लोग । कहीं बाढ़ सूखा कहीं, जीव रहे हैं...

पेड़ लगाओ

  पेड़ लगाओ (चौपाई)  मिल जुलकर सब पेड़ लगाओ । ताजा ताजा फल को खाओ ।। देती है यह सबको छाया । अदभुत इसकी है सब माया ।। फूल पान औ फल को देती । बदले हमसे कुछ ना लेती । पत्ती जड़ से औषधि बनती । बीमारी को झट से हरती ।। मिलकर पौधे रोज लगाओ । शुद्ध हवा तुम निशदिन पाओ ।।...
error: