Select Page

जय मॉ जगद्धात्री

*** जय मॉ जगद्धात्री मॉ की जय *** *** ” ॐ सृस्टिस्थितिविनाशानाम शक्तिभूते सनातनी। गुणाश्रये गुणमये नारायणि नमःस्तुते।।” 💐💐💐 जगत जननी श्री चण्डी का एक रूप है मॉ जगद्धात्री (जगत-संसार,सृस्टि को धारणकर रक्षा करनेवाली आधारभूता आदि महाशक्ति)। असुरीय अत्याचार जब...

जय छ्ठ माता की जय-जय अरपा माता की जय

जय छ्ठ माता की जय – जय अरपा माता की जय। बिलासपुर के जीवन दायिनी अन्तःसलिला सदायौवना अरपा नदी। वर्षान्त मे जलामृत से परिपूर्णा शांत स्वभाव लास्यमयी अरपा। शारदीय उत्सवपूर्ण महल मे छठ माता के आगमनी बार्ता प्राप्तकर शृंगार किये है अरपा माता। स्वच्छ परिवेश मे आलोक...

साहित्यश्री-1//गोपाल चन्द्र मुखर्जी

” सर्वाग्र पूज्यते गणेश ” सर्व अग्रपूज्य शिवपुत्र गणेश लम्बोदर गजानन विघ्नहंता लोकेश, दीर्घकर्ण सुक्ष्मदर्शी निष्पक्ष विचारक चतूर्भूज गदाधारी महावली विनायक। सिन्दुर शोभाकर मोदकप्रिय वीरेश मूसकसवार मातरीभक्त बक्रतुण्ड ब्रह्मेश। धीरगति स्थीरबुद्द्हि एकदन्त...
error: